अगर महिला प्रधान है तो महिला ग्राम प्रधानों की अध्यक्षता में ही होगी खुली बैठके ग्राम पंचायत भवन में ही होगी बैठक पंचायत भवन ना होने की स्थिति में प्राइमरी स्कूल में होगी बैठक पकड़ में आने पर जा सकती है ग्राम प्रधानी हल्की भूल चूक डूबा सकती है प्रधानी पद

अगर महिला प्रधान है तो महिला ग्राम प्रधानों की अध्यक्षता में ही होगी खुली बैठके ग्राम पंचायत भवन में ही होगी बैठक पंचायत भवन ना होने की स्थिति में प्राइमरी स्कूल मैं होगी बैठक पकड़ में आने पर जा सकती है ग्राम प्रधानी, हल्की भूल चूक डूबा सकती है प्रधानी पद
संवाददाता नरेश कुमार उर्फ भूपेंद्र राणा तहसील रामपुर मनिहारान जनपद सहारनपुर दैनिक अयोध्या टाइम्स
डीपीआरओ के अनुसार इस बारे में सहायक विकास अधिकारी पंचायत व ग्राम सचिव को हिदायत दे दी गई है पंचायत घर की साफ सफाई और रख रखाव करने को कहा गया है सहारनपुर महिला ग्राम प्रधानों के पति अब ग्राम पंचायत के कामकाज मे दखलअंदाज़ी नहीं कर सकेंगे, वहीं महिला प्रधान को पंचायत की बैठकों में नही आना भारी पड़ सकता है, मामला पकड़ में आने पर महिला प्रधान को अपना प्रधानी पद भी गवाना पड़ सकता है। डीपीआरओ उपेंद्र राज सिंह ने बताया पंचायत शासकीय मानको के अनुसार चलेगी, ज़िले में 884 ग्राम पंचायत है, इनमे 188 पंचायतो में सामान्य जाति 102 पंचायतो में पिछडी जाति और 86 पंचायतो में अनुसूचित जाति की महिला ग्राम प्रधान है।
पंचायतराज अधिनियम के अनुसार ग्राम पंचायत की बैठक की अध्यक्षता ग्राम प्रधान करते है। शासन की योजनाओं को अमलीजामा पहनाने की ज़िम्मेदारी भी ग्राम प्रधान की होती है। शासन को इस बात की लगातार शिकायत मिल रही है की महिला ग्राम प्रधान बैठकों में नहीं आती है, प्रधान के पति बैठक में आते हैं। आरोप है की पति प्रधान पति पंचायत के कामकाज में दखलअंदाज़ी करते है। इसका असर विकास कार्यों पर पड़ रहा है। शासकीय योजनाओं को जानकारी ग्रामवासियों को नहीं होने से व लाभ से वँचित रह जाते हैं। शासन की भी मंशा है की पंचायतराज एक्ट का पालन हो शासन की योजनाए हर व्यक्ति तक पहुंचे, लोकतंत्र में पंचायत विकास की पहली सीडी है।
कहा पर हों सकती हैं बैठके
ग्राम पंचायत और सभी सरकारी बैठक पंचायतघरो में ही होगी, पंचायतघर नहीं होने पर बैठक प्राथमिक स्कूल मे होगी, डीपीआरओ के अनुसार इस बारे में सहायक विकास अधिकारी पंचायत व ग्राम सचिव को हिदायत दे दी गई है। पंचायतघर की साफ सफाई और रख रखाव करने को कहा गया है। ऐसा होने पर पंचायत का कामकाज निष्पक्ष भाव से होगा तथा लोगों को भी इधर उधर भटकना नहीं पड़ेगा।

व्हाट्सप्प आइकान को दबा कर इस खबर को शेयर जरूर करें

Please Share This News By Pressing Whatsapp Button




जवाब जरूर दे 

आप अपने सहर के वर्तमान बिधायक के कार्यों से कितना संतुष्ट है ?

View Results

Loading ... Loading ...


Related Articles

Close
Close

Website Design By Bootalpha.com +91 82529 92275