पालिका पर लगाया कब्रिस्तान की भूमि पर जबरन सडक निर्माण कराने का आरोप ।

दिनांक 05/06/2021 को कैराना पालिका ने अगर नही रोका सडक निर्माण कार्य तो राजो की बिरादरी कस्बे से पलायन करने को होगी मजबूर । पूर्व मे भी पूर्व सांसद ने करायी थी चार दीवारी । लम्बे समय से उक्त भूमि को लेकर कई बार हो चुका है अफरा तफरी का माहोल । तो वही कस्बे से दंबगता के चलते पलायन का मुददा भी देश सहित विदेशो तक सुर्खियो मे बना रहा था ।
कस्बे के राजो समाज के दर्जनो जिम्मेदार लोगो ने उपजिलाधिकारी कैराना को ऐक शिकायती प्रार्थना पत्र देकर अवगत कराया कि उनके पूर्वजो के समय से ही उनके कब्रिस्तान की भूमि कस्बे के खुरगान रोड अलीशेर पर स्थित है । उक्त कब्रिस्तान मे ही राजो समाज के कई पीढी के लोगो की पुरानी कब्रे मोजूद है । जिसकीचारो ओर की चारदीवारी उत्तर प्रदेश सरकार के द्वारा करायी गयी थी । उक्त कब्रिस्तान की भूमि से मिलती जुलती भूमि कस्बे के एक लाला की थी जिसमे लाला ने प्लाटिग कर भूमि को टुकडो मे बैच दिया उक्त लाला की भूमि का रास्ता दूसरी ओर है लेकिन लाला ने पूर्व मे कुछ दंबगो से मिलकर सन 2014 मे उक्त कब्रिस्तान की बोडण्ड्री को तोडना शुरू कर दिया था तो राजो समाज ने उसका विरोध कर उस समय भी कोतवाली कैराना मे शिकायती प्रार्थना पत्र दिया था ओर पुलिस ने उसी समय उक्त कब्रिस्तान की भूमि को कब्जा होने से बचा दिया था । उपजिलाधिकारी को दिये गये शिकायती पत्र मे राजो समाज के लोगो ने नगर पालिका परिषद पर आरोप लगाया कि उनके समाज के बर्षो पुराने उनके पूर्वजो की कब्रिस्तान की भूमि पर जबरन सडक निर्माण कार्य कराना शूरू कर दिया है जो गलत है । आरोप लगाया कि पालिका की दबगता के चलते ही उक्त कब्रिस्तान की भूमि पर सडक निर्माण कार्य कराया जा रहा है जिसे रूकवाना अति आवश्यक है । दिये गये शिकायती पत्र मे यह भी खुलासा किया गया है कि अगर पालिका की हटधर्मी व दबगता के चलते यह सडक निर्माण कार्य नही रोका जाता तो वह कस्बे से पलायन करने पर मजबूर होगे । जिसकी जिम्मेदारी पालिका की होगी । शिकायती पत्र मोमीन सादिक अहमद खुर्शीद सलमान इरफान शकूर मसकूर इनाम तंजीम समीर फैजान गुलफाम इमरान मकसूद आदि लोगो ने उपजिला धिकारी को सोपा है ।
राजो समाज के लोग बताते है कि गत कुछ वर्षो पूर्व पूर्व सांसद स्वर्गीय चोधरी अकतर हसन ने अपने सामने पैमाईस करायी थी ओर उक्त कब्रिस्तान की ओर नई बस्ती मे मकान स्वामियो द्वारा खोले गये दरवाजो को बंद कराया था ओर कब्रिस्तान की चार दिवारी भी उन्ही की देख रेख मे हुई थी । उनका कहना है कि चोधरी अकतर हसन के निधन के बाद ही उक्त कब्रिस्तान की भूमि पर जबरन सडक निर्माण कार्य पालिका द्वारा किया जा रहा है शायद आज पूर्व सांसद चोधरी अकतर हसन हमारे बीच होते तो भी उक्त कब्रिस्तान की भूमि पर पालिका द्वारा जबरन सडक निर्माण कार्य नही किया जाता । राजो समाज के लोगो का कहना है कि चोधरी अकतर हसन ने हमेशा राजो समाज का साथ दिया है ।
कस्बे से पलायन का मुद्दा पूर्व मे देश मे ही नही विदेशो तक गूजा था जो कि दंबगता के चलते व्यापारियो की हत्या होना तथा रंगदारी जैसी घटना को लेकर भाजपाके पूर्व सासंद बाबू हुकुमसिह ने सडक से संसद भवन तक उठाते हुऐ उस समय की सपा सरकार को कटघरे मे खडा कर दिया था । लेकिन आज प्रदेश मे भाजपा की सरकार है अगर पालिका द्वारा कब्रिस्तान की भूमि पर सडक निर्माण कार्य नही रोका गया । तो क्या सपा कार्यकर्ता मोजूदा सरकार को पलायन के मुददे पर घैरने का कार्य करगे । क्योकि राजनिति आजकल चोराहो तथा गलियाहरो मे आगामी विधानसभा चुनाव को लेकर तेज होती दिखाई दे रही है । यह तो समय के गर्व मे छिपा है जो आने वाला समय ही तय कर पायेगा कि पीडित राजो समाज के पक्ष मे अधिकारी फैसला करते है या फिर पालिका के पक्ष मे फैसला होता है ।

व्हाट्सप्प आइकान को दबा कर इस खबर को शेयर जरूर करें

Please Share This News By Pressing Whatsapp Button




जवाब जरूर दे 

आप अपने सहर के वर्तमान बिधायक के कार्यों से कितना संतुष्ट है ?

View Results

Loading ... Loading ...


Related Articles

Close
Close

Website Design By Bootalpha.com +91 82529 92275