कोरोना माहमारी ले रही है विकराल रूप , रोज़ जा रही है अनगिनत जाने ।

कोरोना माहमारी ले रही है विकराल रूप , रोज़ जा रही है अनगिनत जाने ।

कोरोना एक घातक बीमारी है , इससे बचाव के लिए सावधानी बरतनी ज़रूरी है

 

वासिल खान  (मुख्य सम्पादक शामली ब्रेकिंग न्यूज़)

कोरोना एक वैश्विक महामारी है जोकि अब बहुत ही भयावय रूप ले चुकी है ,

हर रोज़ कोरोना के अनगिनत मामले सामने आरहे है और बहुत से लोग इस महामारी की वजह से दुनिया छोड़ रहे है ।
इस सूरतेहाल में हर देश वासी को सावधानी बरतनी चाहिए ।

विश्व स्वास्थ्य संगठन या WHO द्वारा कोरोना वायरस यानी COVID-19 को महामारी घोषित किया गया है। इस वायरस ने पिछले साल पूरी दुनिया को अपने चपेट में ले लिया था और अब तक करोड़ों लोगों की जान ले चुका है। यह बीमारी सबसे पहले 2019 में चीन में देखी गई थी। इसके बाद यह संक्रमण धीरे-धीरे पूरी दुनिया में फैल गया। इससे ना केवल लोगों की जान गई, साथ ही कई लोगों की आर्थिक स्थिति को भी बहुत नुकसान पहुंचा। ऐसे में कोरोना की दूसरी लहर के चलते इस वायरस का संक्रमण 2021 में और भी बढ़ गया है और साथ ही कोरोना के लक्षण भी बदल गए हैं। वायरस के संक्रमण फैलने से रोकने के लिए सभी देश में कई सारे नियम लागू किए हैं जिसके मद्देनजर लॉकडाउन लगाया गया और भीड़ भाड़ करने की इजाजत नहीं दी गई। इसके अलावा लोगों को स्वच्छता और सामाजिक दूरी का महत्व सिखाया गया और इम्यूनिटी मजबूत करने के लिए प्रोत्साहित किया गया।
कोरोना वायरस यह एक ऐसा संक्रमण है जो एक व्‍यक्ति से दूसरे व्‍यक्ति में तेजी से ट्रांसफर होता है। वर्तमान में इस वायरस के लक्षण सर्दी, जुकाम,बुखार, सुगंध नहीं आना, स्वाद नहीं आना, सांस लेने में होना और गले दुखना है। पूरी दुनिया में इस वायरस पर शोध जारी है।
भारत ने वैक्‍सीन के उत्‍पादन के बाद इसे अभी 65 देशों में उपलब्‍ध कराया है। भारत सरकार द्वारा यह वैक्‍सीन कुछ देशों को ग्रांट बेसिस पर दी जा रही है। किसी देश में भारतीय वैक्‍सीन की कीमत चुकाने पर उपलब्‍ध कराई जा रही है। भारत ने श्रीलंका, भूटान, बांग्‍लादेश, नेपाल, म्‍यांमार,मालदीव सहित अन्‍य कुछ देशों में 56 लाख कोरोना वैक्‍सीन के डोज उपलब्‍ध कराए हैं।
एक साल बाद फिर से पूरी दुनिया में कोरोनावायरस लगातार फैलता जा रहा है। 21 मार्च 2020 को भारत में जनता कर्फ्यू लगाया गया था, आज एक साल बाद फिर वही स्थिति बन रही है। भारत के कई क्षेत्रों में दोबारा नाइट कर्फ्यू लगाया गया है, तो कई क्षेत्रों में पूर्ण लॉकडाउन लगाना पड़ा है। वैज्ञानिकों द्वारा इस पर लगातार शोध जारी है। वर्तमान में इस बीमारी से बचाव के लिए सोशल डिस्‍टेंसिंग का पालन करें और मास्‍क लगाएं।

व्हाट्सप्प आइकान को दबा कर इस खबर को शेयर जरूर करें

Please Share This News By Pressing Whatsapp Button




जवाब जरूर दे 

आप अपने सहर के वर्तमान बिधायक के कार्यों से कितना संतुष्ट है ?

View Results

Loading ... Loading ...


Close
Close

Website Design By Bootalpha.com +91 82529 92275