मस्जिदों में अलविदा जुमे की नमाज सोशल डिस्टेंसिंग के साथ की अदा

मस्जिदों में अलविदा जुमे की नमाज सोशल डिस्टेंसिंग के साथ की अदा

रुड़की। नगर व आसपास के क्षेत्रों में मस्जिदों में अलविदा जुमे की नमाज सोशल डिस्टेंसिंग के साथ अदा की गई।सरकार की गाइड लाइन के अनुसार कोरोना काल में मस्जिदों में रोजेदारों ने अलविदा जुमे की नमाज अदा की।नगर की जामा मस्जिद में अलविदा जुमे की नमाज मुफ्ती मोहम्मद सलीम ने अदा कराई।इस दौरान कोरोना महामारी से निजात तथा मुल्क में अमन और तरक्की की विशेष दुआ भी की गई।मुफ्ती मोहम्मद सलीम ने नमाज से पहले अपने खुतबे में कहा कि आज हमारा मुल्क ही नहीं,बल्कि पूरी दुनिया इस कोरोना महामारी की चपेट में है और इंसान को ऐसे हालात से डरने की नहीं,बल्कि उसका मुकाबला करने की जरूरत है। सरकार के गाइडलाइन पर अमल करते हुए मास्क का प्रयोग,सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए अपने घरों में ही रहें तथा रमजान के महीने में इबादत करें।उन्होंने कहा कि रमजान का पाक महीना मुकद्दस महीना है और इसमें अल्लाह ताला से अपने गुनाहों से तोबा के साथ ही इस महामारी से निजात की भी दुआएं मांगे।उन्होंने कहा कि रमजान में हर दुआ कबूल होती है,इसलिए ज्यादा से ज्यादा वक्त इबादत में गुजारें और उसके बंदों की खिदमत करें।उन्होंने कहा कि जकात देने में कोताही नहीं करनी चाहिए।जकात देने से माल व दौलत में बढ़ोतरी होती है।उन्होंने कहा कि इस बार जकात की रकम ₹35 रखी गई है जो हमें ईद की नमाज अदा करने से पहले जरूरतमंद लोगों तक पहुंचानी होगी।इस मौके पर मौलाना अरशद कासमी, कारी कलीमुद्दीन, अफजल मंगलौरी, जावेद अख्तर एडवोकेट, डॉक्टर नैय्यर काजमी, हाजी नौशाद अहमद, शेख अहमद जमां, अताउल रहमान अंसारी, हाजी लुकमान कुरैशी ,कुंवर जावेद इकबाल, डॉ.मोहम्मद मतीन, प्यारे मियां, सैयद नफीस उल हसन, सलमान फरीदी, सलीम साबरी, इमरान देशभक्त आदि मौजूद रहे।

व्हाट्सप्प आइकान को दबा कर इस खबर को शेयर जरूर करें

Please Share This News By Pressing Whatsapp Button




जवाब जरूर दे 

आप अपने सहर के वर्तमान बिधायक के कार्यों से कितना संतुष्ट है ?

View Results

Loading ... Loading ...


Related Articles

Close
Close

Website Design By Bootalpha.com +91 82529 92275