छठव्रती डूबते सूर्य को अर्घ दिया

रिपोर्ट
परमानन्द पाण्डेय

बड़हरिया प्रखंड मुख्यालय सहित ग्रामीण क्षेत्रो में छठव्रतियों ने अस्ताचलगामी  सूर्य को अर्घ दिया । महापर्व चैती छठ को लेकर चहल-पहल आज परवान पर था। कुछ छठव्रती छठ घाटों पर जाकर और अधिकांश अपने घरों पर छठ पर्व किया। छठ मैया की पूजा अर्चना को लेकर सुबह से ही बाजार में फल और कपड़ा खरीदने को लेकर चहल-पहल थी। हालांकि कोरोनावायरस को लेकर उत्साह में कमी थी। फिर भी छठ व्रतियों ने पूजा-अर्चना में कोई कोर कसर नहीं छोड़ा। रविवार को अस्ताचलगामी सूर्य को अर्घ्य देने के बाद छठ व्रत का दूसरा दिन समाप्त हो गया। बड़हरिया के प्रखण्ड मुख्यालय के अलावे लौवान तेतहली, कैलगढ़ खुर्द, लकड़ी, लकड़ी दरगाह, पुरैना, सुंदरपुर, सुंदरी, बहादुरपुर, बालापुर, रानीपुर, राछोपाली सहित सभी गावो में छठ घाटों पर छठव्रती जाकर और अपने घरों पर डूबते सूर्य को अर्घ्य विधिवत दिया । सोमवार को उगते सूर्य को अर्घ्य देने के साथ ही चार दिवसीय छठ व्रत संपन्न हो जायेगा। छठ व्रतियों ने 3 दिन का उपवास रखा है। नहाए खाए और खरना के बाद डूबते सूरज को अर्घ्य दिया गया। बड़हरिया मुख्य बाजार में भी छठ घाट बनाए गए थे। छठ घाट पर चहल-पहल दिखा। हालांकि कोरोनावायरस के संक्रमण को लेकर छठ व्रतियों में दहशत का माहौल था। लोग सामाजिक दूरी बनाकर और मोह पर मास्क लगाकर ही छठ व्रत कर रहे थे। आने जाने वाले लोगों से दूरी बना कर रहे थे।

व्हाट्सप्प आइकान को दबा कर इस खबर को शेयर जरूर करें

Please Share This News By Pressing Whatsapp Button




जवाब जरूर दे 

आप अपने सहर के वर्तमान बिधायक के कार्यों से कितना संतुष्ट है ?

View Results

Loading ... Loading ...


Related Articles

Close
Close

Website Design By Bootalpha.com +91 82529 92275