झोला छाप डॉक्टर से इंजेक्शन लगवाना पड़ा भारी , बिगड़ी हालत।

कैराना _ मजदूर को इंजक्शन लगवाना पडा भारी । हालत हुई खराब । परिजनो ने झोलाछाप डाक्टर के क्लीनिक पर पहुच काटा हगामां सूचना पर पहुची पुलिस ने मजदूर को स्वास्थय केन्द्र पर उपचार हेतू भिजवाया ।

 

पीडित ने कोतवाली मे तहरीर देकर झोलाछाप डाक्टर के विरूध कार्यवाही की माग की ।
प्राप्त समाचार के अनुसार कस्बे के देहात आर्यपुरी निवासी शाहनावाज पुत्र जहीर के परिजनो ने कोतवाली मे तहरीर देकर अवगत कराया कि वह मजदूरी कर अपना व अपने परिवार का पालन पोषण करता है । आज बुधवार की दोपहर जब शाहनावाज कस्बे के काधला रोड पर चिनाई मजदूरी का कार्य कर रहा था तो अचानक ही शाहनावाज की कम्र मे दर्द हो गया । जिसके चलते शाहनावाज अपने निवास आर्यपुरी पहुच गया जिसको लेकर उसकी पत्नी आकाशदीप क्लीनिक डाक्टर भारत भूषण के यहा पहुच गयी आरोप लगाया कि डाक्टर ने शाहनावाज के कोई इंजक्शन लगाया ओर उसे घर रवाना कर दिया । जव तक पीडित घर पहुचा तब तक हालत मे सुधार होने के बजाय हालत ओर बिगडती चली गयी हालत बिगडते देख पत्नी पति शाहनावाज को लेकर दोबारा फिर डाक्टर के क्लीनिक पर पहुची आरोप है कि डाक्टर ने पीडित मरीज को धमका कर क्लीनिक से बहार कर दिया जिससे पीडित व पीडित की पत्नी क्लीनिक के बहार बैठ कर रोने लगी जिसे देख आने जाने वाले राहगिरो का जामवाडा लग गया ओर डाक्टर ने अपने समर्थको को फोन कर अपने क्लीनिक पर बुला लिया वही जमा भीड ने डाक्टर को पुनः इलाज करने को लेकर हगामा काट दिया लेकिन घबराये डाक्टर ने किसी की न सुन अपने समर्थ्को के बल पर ही पीडित की पत्नी पर ही मारपीट करने जैसा आरोप लगाने मे अपनी आवाज बुलंद करनी चाही लेकिन जमा भीड ने डाक्टर को खरी खोटी सुनाई सुचना पर पहुची पुलिस ने मोके पर पहुच कर मामले को शान्त कराने का पूरा प्रयास किया ओर पीडित मरीज को सरकारी स्वास्थय केन्द्र पर उपचार हेतू भिजवाया । पीडित के परिजनो ने कोतवाली मे तहरीर डाक्टर के खिलाफ कानूनी कार्यवाही की माग की ।
ज्ञात रहे कि कुछ समय पहले भी डाक्टर पर नशे के इजक्शन बेचने का आरोप लग चुका है जिसके मीडिया मे प्रकाशित होने पर ऐक ओर जहा पूर्व मे आकाशदीप क्लीनिक के स्वामी डा भारतभूषण के खिलाफ कुछ लोगो ने सी एम ओ शामली को ऐक शिकायती प्राथना पत्र देकर डा० के खिलाफ जाच कर कार्यवाही की माग की थी तो वही सूत्र बताते है कि डा० ने अपना बचाव करते हुऐ रंगदारी मागने का आरोप लगाते हुऐ कोतवाली मे तहरीर देकर आरोपी के खिलाफ कार्यवाही की माग की थी । लेकिन मामला आज उस समय सडको पर जागरूक हो गया जब एक मजदूर को डा० द्वारा इजक्शन लगा दिया ओर पीडित मजदूर की हालत सुधरने के बजाय ओर खराब हो गयी । मामला यही ही नही रूका भीड के बीच मे पहुची ऐक महीला ने डा० भारत भूषण पर आरोप लगाते हुऐ बताया कि उसके पति महरबान पुत्र नूरा के पैर मे दर्द रहता था आरोप है कि उसके भी एक वर्ष पूर्व उक्त डाक्टर ने कोई इंजक्शन लगाया था जो इंजक्शन लगने के बात उसकी हालत बिगड गयी थी हालत बिगडते देख उस समय डाक्टर ने कुछ जिम्मेदार लोगो को बुलाकर हाथ पैर जोड पकड कर फैसला करा लिया था ओर लिखित फैसला हो गया था । महिला ने यह बताया कि डाक्टर बिना डिग्री व बिना लायसंस के लम्बे समय से क्लीनिक चला रहा है जो गरीब मजदूरो को तरह तरह की दवाईया इलाज के नाम पर देता है ओर कई मरीजो की उपचार के दोरान हालात खराब हो गयी थी लेकिन
कोई कानूनी कार्य वाही न होने के कारण डा० के होसले बुलंद बताये गये है तो वही भीड ऐकत्र के दोरान नागरिको ने डा० पर नशा कर मरीजो को देखने का भी आरोप लगाया ओर कहा कि डा ० की अगर डाक्टरी हो जाये तो नशा करने का भी खुलासा हो जाऐगा जो दूसरे को नशे की नशीहत देते है वो खुद नशे जैसी आदत मे फसै रहते है वो क्या कानून के खिलाफ नही है । क्या डा० डाक्टर पर लगाये गये आरोप सही या गलत है यह तो जाच के बाद ही पता लग पायेगा । अभी कुछ कहना समभव नही है ।

व्हाट्सप्प आइकान को दबा कर इस खबर को शेयर जरूर करें

Please Share This News By Pressing Whatsapp Button




जवाब जरूर दे 

आप अपने सहर के वर्तमान बिधायक के कार्यों से कितना संतुष्ट है ?

View Results

Loading ... Loading ...


Related Articles

Close
Close

Website Design By Bootalpha.com +91 82529 92275