मिशन शक्ति विशेष कार्यक्रम के तहत नगर पंचायत में एक गोष्ठी का आयोजन हुआ

महिला अपराध रोकने के लिए महिलाओं का जागरूक होना आवश्यक है- डॉक्टर नीरज सैनी

– मिशन शक्ति विशेष कार्यक्रम के तहत नगर पंचायत में एक गोष्ठी का आयोजन हुआ

 

थानाभवन नगर पंचायत में मिशन शक्ति विशेष कार्यक्रम के तहत अधिशासी अधिकारी के निर्देशन में एक गोष्ठी का आयोजन किया गया जिसमें महिला संबंधी अपराध व समाज में फैली कई कुरीतियों के प्रति जागरूकता अभियान चलाने का आह्वान किया गया। कार्यक्रम में कई समाजसेवी महिलाओं ने बोलते हुए लोगों को जागरूक किया।
जनपद शामली की थानाभवन नगर पंचायत में अधिशासी अधिकारी मेघा गुप्ता के निर्देशन में मिशन शक्ति के संबंध में एक विशेष अभियान के तहत एक गोष्ठी का आयोजन किया गया। जिसमें बालक, बालिकाओं, छात्र व महिलाओं को सामाजिक कुरीतियों को हटाने हेतु जागरूक अभियान चलाना, शारीरिक विभिनता, लिंगभेद संबंधित मुद्दों पर विचार विमर्श करना, किशोर बालक बालिकाओं के विचार को समझकर सही मार्गदर्शन देना, मलिन बस्तियों में किशोरियों के साथ अपमानजनक भाषा की पहचान करना उससे उपजी हिंसा, लैंगिक हिंसा दुष्प्रभाव पर सुझाव देना, भावनाओं का नियंत्रण, तनाव का नियंत्रण, एकाकी जीवन से निपटना, बढ़ते मनोरोग और उसके समाधान की व्यवस्था करना, हिंसा के खिलाफ आवाज के लिए जागरूक करना, पुलिस सहायता लेने से नहीं डरना, कानूनी सहायता लेने को प्रेरित करना, भ्रमो पर ज्ञानवर्धक करना, अच्छा बुरा स्पर्श समझाना कार्य स्थल पर दुर्व्यवहार न सहना, हिंसा के खिलाफ बोलने वाली बालिकाओं महिलाओं को प्रोत्साहन अभिनंदन करने पर विचार किया गया। इस अवसर पर अधिशासी अधिकारी थानाभवन नगर पंचायत मेघा गुप्ता ने बोलते हुए कहा कि हमें अगर समाज से महिला संबंधी अपराध को बढ़ने से रोकना है और कई फैली बुराइयों को दूर करना है तो सबसे पहले इसकी शुरुआत हमें अपने आप से करते हुए पहले खुद को शिक्षित करना होगा और आर्थिक स्वावलंबन के साथ-साथ अपने अधिकारों के बारे में जागरूक होकर समाज को भी जागरूक करने का काम करना होगा। वही कार्यक्रम में डॉक्टर नीरज सैनी ने बोलते हुए कहा कि समाज में महिला संबंधी अपराध को लेकर सरकारे चिंता कर रही हैं यह निश्चित ही आने वाले समय में महिला सशक्तिकरण की ओर बढ़ते कदम को दर्शाता है। उन्होंने कहा कि अगर हम कहीं पर कोई अपराध होता देखते हैं तो हमें वही चुप ना रहकर पुलिस की मदद सामाजिक मदद अन्य कई संसाधनों के द्वारा आवाज उठानी चाहिए और अपने आप को मजबूत बनाकर शिक्षित करके समाज में भागीदारीता करनी चाहिए। घरेलू हिंसा कि अगर हम बात करें तो शिक्षा की कमी एकाकी परिवार में रहने की आदत इसकी जिम्मेदार है। कार्यक्रम में किसान इंटर कॉलेज के प्रिंसिपल प्रतिभा सैनी ने छात्र छात्राओं को जागरूक किया। वहीं समाज सेविका पायल कश्यप ने कहा कि हमें कभी भी अपने आप को कमजोर नहीं समझना चाहिए और आज पूरी दुनिया में महिलाएं सभी क्षेत्र में आगे बढ़ रही हैं वह उनकी जागरूकता का ही नतीजा है। कार्यक्रम में ही मिशन शक्ति प्रभारी एस आई आरती सिंह ने भी बोलते हुए कहा कि महिला से संबंधित अगर कहीं अपराध हो रहे हैं तो हमें उनके प्रति गंभीर होकर समय से पुलिस सहायता या सरकार द्वारा चलाई जा रही है हेल्प लाइन 1090 आदि सेवाओं का उपयोग करना चाहिए। कार्यक्रम में नामित सभाषद अनिता सैनी, ईशानी रुहेला, मुस्कान सैनी, अभिका चौधरी, प्राची पुंडीर, हिमांशी, मानसी गौतम, मानसी, सृष्टि, विधि, माही, दामिनी, मीनू सैनी आदि लोग शामिल रहे।

व्हाट्सप्प आइकान को दबा कर इस खबर को शेयर जरूर करें

Please Share This News By Pressing Whatsapp Button




जवाब जरूर दे 

आप अपने सहर के वर्तमान बिधायक के कार्यों से कितना संतुष्ट है ?

View Results

Loading ... Loading ...


Related Articles

Close
Close

Website Design By Bootalpha.com +91 82529 92275